बाबा हरदेव सिंह , निरंकारी प्रमुख का कनाडा के मोंट्रियल में एक सड़क हादसे में निधन हो गया है| वह 62 वर्ष के थे | संत निरंकारी मंडल का कहना है के “वह एक गंभीर सड़क हादसे में तक़रीबन सुबह 5.00 बजे प्रभु को प्रिये हो गए हैं| “

4339980810_1141a96554_b

बाबा हरदेव सिंह कनाडा में एक धार्मिक सभा के लिए आये थे| जून में टोरंटो शहर में निरंकारी अन्तराष्ट्रीय समागम होना था| जिसका उद्देश्य इंसानियत था|

भारतीय प्रधान मंत्री ने भी इस घटना पर शोक जताया है|

निरंकारी बाबा कोण थे|

इनका जनम 23 फरवरी, 1954 में दिल्ली में हुआ था | इन्होने अपनी पढाई संत निरंकारी कॉलोनी, रोस्मरी पब्लिक स्कूल , दिल्ली से की थी| 1980 में जब इनके पिता गुरचरन सिंह को मार दिया गया था तब इन्होने संत निरंकारी मिशन को अपने हाथ में लिए था|

निरंकारी मिशन क्या है |

इस मिशन की शुरवात 1929 में बाबा बूटा सिंह द्वारा की गयी थी|| जो की निरंकारी समाज से सम्बन्ध रखते थे|

-1947 के विभाजन के बाद इस मिशन को पश्चमी पंजाब से दिल्ली स्थापित कर दिया गया था|

-2009 तक इस की 100 शाखाएं तक़रीबन 27 देशों में थी|

-10 लाख से जादा व्यक्ति इसके साथ जुड़े हुए है|

अब आप ताज़ा ख़बरों के लिए पागलपैरेट की मोबाइल एप्लीकेशन भी अपने एंड्राइड और इओस पर डाउनलोड कर सकते है|