News योग दिवस पर ॐ शब्द का उचारण ज़रूरी | मुस्लिम समाज में...

योग दिवस पर ॐ शब्द का उचारण ज़रूरी | मुस्लिम समाज में रोष |

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर पहले करना पड़ेगा ॐ शब्द का उचारण, ये है नया प्रोटोकॉल | जिस पर मुस्लिम समाज और अन्य राजनितिक पार्टी ने रोष प्रकट किया है|

INTERNATIONAL-YOGA-DAY-

- Advertisement -

२१ मई को एसे मनाया जायेगा योग दिवस |

पूरा कार्यक्रम में तकरीबन ४५ मिनट का समय लगेगा | कंधे व गर्दन से जुड़े आसन में ६ मिनट लगाये जायेंगे| प्राथना के लिए २ मिनट लगाये जायेंगे | जिसके बाद २३ आसान किये जायेंगे | २०१४ में यूएन में दिए गए प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी के भाषण के बाद इसे अन्तराष्ट्रीय तोर पर मानयिता दी गयी थी | २१ मई २०१५ को पहली बार ये दिवस जोर शोर से मनाया गया था |

किसने लगाया आरोप |
कांग्रेस के संदीप दीक्षित अवं जेडीयू के किन्ही त्यागी ने सरकार पर आरएसएस का एजेंडा लगाने का आरोप लगाया है | सवाल ये उठता है कि जब सरकार को पता है के इस मुदे पर पिछले साल भी एतराज़ जताया गया था तो फिर इस बार ये निर्णय क्योँ लिया गया ? हम उम्मीद करते हैं आप जान ही गए होंगे | अब हरेक सवाल का जवाब देना ज़रूरी तो नहीं न होता |

बॉलीवुड अभिनेता अनुपम खेर का इस पर बयान |

अनुपम खेर का कहना है जो लोग ॐ शब्द का उचारण नहीं करना चाहते वो किसी और शब्द का उचारण करलें | उनके हिसाब से हरेक चीज़ को राजनीतिक पहलु नहीं देना चाहिए |

इस विषेय पर हमारा तो यह मानना है कि वोही उचारण कीजिये जो आपके दिल को भाये, आखिर अपने मन्न में आपने कोनसे मन्त्र का उचारन किया किसी को क्या पता लगने वाला  है | बस जो भी करें ध्यान से क्योंकि योग करना बच्चों का खेल नहीं है |

अब आप ताज़ा ख़बरों के लिए पागलपैरेट की मोबाइल एप्लीकेशन भी अपने एंड्राइड और इओस पर डाउनलोड कर सकते है|

Next Story

Petition Filed in Pakistan Court to Ban Cricket Team After Humiliating Defeat From India

Pakistan team is suffering from its worst phase right now. They lost from India for the seventh time in the cricket world...

Share

More From PagalParrot