जानिए क्यों मोदी के डर के कारन छोड़ी केजरीवाल की पत्नी ने नौकरी

अरविंद केजरीवाल की पत्नी सुनीता केजरीवाल राजस्व विभाग में बीस साल से अधिक समय तक नौकरी कर चुकी हैं।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की पत्नी सुनीता केजरीवाल ने भारतीय राजस्व सेवा (आईआरएस) से स्वैच्छिक सेवा निवृत्ति (वीआरएव) ले ली है।

sunita kejriwal arvind kejriwal

अभी तक उनके इस फैसले की वजह सामने नहीं आई है लेकिन सूत्रों का कहना है कि उन्होंने ऐसा केजरीवाल की राजनीतिक ज़िम्मेदारियाँ बढ़ने की वजह से किया है। उनका ये फैसला राजस्व विभाग में 22 साल तक नौकरी करने के बाद आया है।

सुनीता को डर था कि दिल्ली सरकार के साथ जारी केंद्र की लड़ाई की वजह से कहीं उन्हें सताया ना जाए। दिल्ली सरकार के क़रीबी सूत्रों के हवाले से पीटीआई ने खबर दी।

केंद्रीय मंत्रालय के राजस्व विभाग की तरफ से मंगलवार को जारी एक नोटिस में इसकी जानकारी दी गयी है। माननीया सुनीता केजरीवाल की वीआरएस 15 जुलाई से मानी जायेगी। यदि वह एक साल के भीतर कोई वाणिज्यिक नियुक्ति स्वीकार करती हैं तो उन्हें इसके लिए सरकार से पूर्वानुमति लेनी होगी।

एक उच्च अधिकारी के अनुसार सुनीता अब पेंशन की सुविधा से लाभ उठा सकेंगी क्यूंकि राजस्व विभाग में वो बीस साल से अधिक समय तक नौकरी कर चुकी हैं।

Now You Can Get the Latest Buzz On Your Phone! Download the PagalParrot Mobile App For Android and IOS

Comments
Loading...